उत्‍तर-पूर्वी जलीय तथा संबंद्ध अनुसंधान संस्‍थान (निहारी) में आपका स्‍वागत है

यह संस्थान असम समझौते के खंड 7 के अनुसार रुद्रेश्वर, उत्तरी गुवाहाटी में ब्रह्मपुत्र बोर्ड के तहत स्थापित किया गया था और 1996 के दौरान परिचालन में आया था। नेहारी के मुख्य कार्य सामग्री परीक्षण, हाइड्रोलिक मॉडल अध्ययन करना आदि हैं। संस्थान में मिट्टी, कंक्रीट, अन्य निर्माण सामग्री और नींव चट्टान के परीक्षण के लिए मॉडल ट्रे और फ्लूम्स और प्रयोगशालाओं के साथ हाइड्रोलिक प्रयोगशाला जैसी सुविधाएं मौजूद हैं। नेहरी का कायाकल्प और नवीनीकरण निम्नलिखित घटकों के साथ शुरू किया गया है:
  • सीडब्ल्यूपीआरएस, पुणे और सीएसएमआरएस, नई दिल्ली जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों में जनशक्ति का प्रशिक्षण।
  • पुरानी अपूरणीय मशीनरी/उपकरण को नवीनतम प्रयोगशाला मशीनरी/उपकरण से बदलना और मरम्मत योग्य मशीनरी/उपकरण की मरम्मत करना
  • निहारी में बुनियादी ढांचे का नवीनीकरण